जहाँ पूरी दुनिया आज आधुनिकता से जुड़कर जीना सीख रही है तो वहीँ जनजातियाँ आज भी काफी पीछे हैं और अन्धविश्वास और अपने परंपरागत रीति रिवाज को निभा रहे हैं।

हमारे लिए भले ही ये रीतियां काफी अजीब हो लेकिन इन्हें मानने वाले लोगों के लिए ये काफी महत्वपूर्ण है । इंडोनेशिया में एक जनजाति है जिसमें महिलाएं गैर मर्दों के साथ सम्भोग करती हैं और इसमें उनके परिवार की भी रजामंदी होती है।

दरअसल इंडोनेशिया के बाली में हर साल पॉन नाम त्यौहार मनाया जाता है जहाँ महिलाएं परिवार की रजामंदी से गैर मर्दो के साथ शारीरिक संबंध बनाती है। इस परंपरा के अन्तर्गत यहां औरतों को अनजान मर्दों के साथ संबंध बनाना पड़ता है । ऐसा वो किसी एक मर्द के साथ नहीं बल्कि सात अनजान मर्दो के साथ करती है।

इस समुदाय के लोगों का कहना है कि सदियों से यह परंपरा हम बनाते आ रहे हैं। हर साल नियमित रूप से मनाए जाने वाले इस त्यौहार में बाली में रहने वाले सभी परिवार भाग लेते हैं ।

इसी त्यौहार में महिलाएं अनजान शख्स के साथ शारीरिक संबंध बनाती है । सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात तो ये है कि वो ऐसा अपने परिवारवालों की सम्मति से करती है ।

कुछ लोगों का ऐसा कहना है कि प्राचीनकाल में इंडोनेशिया के एक युवा राजा का अपनी सौतेली मां के साथ अफेयर था । एक बार वो अपनी मां के साथ शारीरिक संबंध बना रहे थे और उसी दौरान किसी शख्स द्वारा उसकी हत्या कर दी गई । हत्या के बाद राजा को गुनुंग केमुकुस में स्थित पर्वत की चोटी पर दफना दिया गया ।

इस वजह से यहां लोगों का ऐसा मानना है कि पहाड़ की चोटी पर संबंध बनाने पर हर मुराद पूरी होती है ।

साल में सात बार आयोजित होने वाले इस त्यौहार में दूर-दराज से लोग आते हैं और पहाड़ की चोटी पर जाकर अजनबियों को इशारेबाजी से एक-दूसरे की ओर आकर्षित करते हैं और फिर संबंध बनाते हैं ।

पुरूषों के लिए ऐसा नियम है कि वो जिस भी महिला के साथ संबंध बनाएगा उसे उस महिला को 10 डॉलर देना पड़ेगा । इस त्यौहार का सबसे बड़ा नुकसान ये हैं कि यहां लोग यौन सम्बंधित रोगों की चपेट में जल्दी आ जाते हैं।

http://rozwala.online/wp-content/uploads/2018/04/yyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyy.jpghttp://rozwala.online/wp-content/uploads/2018/04/yyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyyy-150x150.jpgnation_firstUncategorizedजहाँ पूरी दुनिया आज आधुनिकता से जुड़कर जीना सीख रही है तो वहीँ जनजातियाँ आज भी काफी पीछे हैं और अन्धविश्वास और अपने परंपरागत रीति रिवाज को निभा रहे हैं। हमारे लिए भले ही ये रीतियां काफी अजीब हो लेकिन इन्हें मानने वाले लोगों के लिए ये काफी महत्वपूर्ण है...ROJWALA
loading...